गोण्डा में गुंडाराज

गोण्डा में गुंडाराज

गोण्डा जनपद प्रदेश राजधानी से महज़ 120 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। लेकिन व्यवस्था एवं सुविधाओं की अगर बात की जाए तो यह उन से कोसों दूर है। बदहाल व्यवस्था से जूझते इस जनपद एवं जनपदवासियों का बीते चार वर्षो से उत्थान नहीं हो पाया है। सत्ता लोभ में सने सत्ताधारी नेता निजी फायदों के लिए दोष मुक्त जनता का शोषण कर रहे हैं। बीते चार वर्षो में जनपद में अपराधों के लिस्ट दोगुनी हो चुकी है। बाहुबली लोग लालच और ताक़त के दम पर मुट्ठी भर लोगों के समर्थन से कमज़ोर वर्ग का शोषण यहाँ आम बात हो गयी है। पुलिस प्रशासन भी सत्ता के डर से अपराधियों पर कारवाही करने से बिदकती है। अगर कानून व्यवस्था की बात की जाए तो वह पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है जिसमें सिर्फ बाहुबली एवं सत्ता के शागिर्दों का दबदबा शेष है। आगामी विधान सभा के चुनाव में गोण्डावासियों को जरुरत है अपने मत की ताकत और सूझ-बूझ का परिचय देते हुए उस नेतृत्व का समर्थन करें जोकि इन लचर हालातों में सुधार कर शहर में गुंडाराज एवं भ्रष्ट कानून व्यवस्था पर कड़ी कारवाही कर लोकतान्त्रिक समाज का गठन करने में कारगर साबित हो। केवल बहुजन समाज पार्टी ही अपनी सख़्त क़ानून नियंत्रण व्यवस्था एवं सर्वजन समभाव के साथ जनता के समक्ष कार्यरत है। आगामी चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के बहुमत एवं प्रदेश की जनता के समर्थन से बहुमत की सरकार बनाएगी। जिसके बाद प्रदेश में सशक्त कानून व्यवस्था बहाल होगी।